Diwali Magazine

दिवाली विशेषांक (Diwali e-Magazine), अभी दीपावली को कुछ समय बाकी है, बताते हुये बेहद खुशी हो रही है की, हिंदी का प्रथम दिवाली विशेषांक (ई-नियतकालिक) हम प्रकाशित करने जा रहे है। प्रकाशन हेतु हम कहानी, कविता, हास्य व्यंग्य, नाटक तथा हर प्रकार के साहित्य, संस्कृति, परिवार, स्वास्थ्य, पर्यटन, चित्रकला तथा बाल साहित्य से संबंधित हिंदी रचनाएँ आमंत्रित करते है।

इनाम

दिवाली विशेषांक मे प्रकाशित की गयी रचनाओ के लिए निम्न इनाम रखे गए है।
प्रथम: रु. १०००/-
द्वितीय: रु. ७००/-
तृतीय: रु. ५००/-

हिंदीदर्पण पर प्रकाशित की गयी रचनाओ के लिए निम्न इनाम रखे गए है।
प्रथम: रु. ७००/-
द्वितीय: रु. ५००/-
तृतीय: रु. ३००/-

जिनकी रचनाए हिंदीदर्पण पर प्रकाशित होगी, उन सभी को “दिवाली विशेषांक” उपहार के रूप मे दिया जाएगा।

नियम और शर्ते

  • रचना कीसी भी टेक्स्ट एडिटर मे लिखकर हिंदी यूनिकोड मे ही भेजे।
  • अपने ब्लॉग पर या इंटरनेट पर कही पूर्व प्रकाशित रचनाओं को कृपया न भेजे। पत्र-पत्रिकाओं में पूर्वप्रकाशित रचनाओं के साथ निम्नलिखित सूचना को संलग्न करना आवश्यक है: पुस्तक या पत्रिका का नाम, प्रकाशक का नाम तथा पता, रचना यदि किसी पत्रिका से ली गई है तो अंक की तिथि तथा वर्ष, तथा संपादक का नाम होना भी ज़रूरी है।
  • रचनाएँ भेजने से पूर्व वर्तनी व व्याकरण इत्यादि की जाँच अवश्य कर लें।
  • दिवाली विशेषांक मे जिनकी रचनाए प्रकाशित नहीं होंगी उनकी रचनाए हिंदीदर्पण पर प्रकाशित की जाएगी। दिवाली विशेषांक और हिंदीदर्पण दोनों पर प्रकाशित होने वाली रचनाओ के लिए इनाम रखा गया है।

कहानियां

  • समकालीन कहानी के अंतर्गत प्रकाशन के लिए भेजी गई कहानी की लंबाई २५०० शब्दों से ३५०० शब्दों के बीच होनी चाहिये।
  • लघुकथा की लंबाई ५०० शब्दों के आसपास होनी चाहिये।
  • प्रेरक प्रसंग के लिए भेजी गई कहानियाँ भी लगभग ५०० शब्दों की होनी चाहिये।

कविता

  • यदि प्रकाशन हेतु ग़ज़ल / कविता भेज रहे हों तो कृपया कम से कम ३ से ५ कविताएं एक साथ वर्ड (.doc) या टेक्स्ट (.txt) फ़ाइल में भेजी जानी चाहिये। अर्थात ३ कविताओं के लिए ३ फ़ाइलें नहीं भेजी जानी चाहिये।

अपनी उत्कृष्ट रचना; एक आपका छायाचित्र एवं संक्षिप्त विवरण के साथ हमें निम्लिखित पते पर भेजे-

editor@hindidarpan.com
admin@hindidarpan.com

धन्यवाद,
-टीम हिंदीदर्पण